I have penned down something in Hindi today. Below is the English translation as well.

 

क्यों चले आते हो तुम ख़्यालों में

बिन बुलाए

बिन खटखटाए

जब इस दिल पर तुम्हारा कोई हक़ ही नहीं

इस दिल ने तो उस दिन ही

निर्मोही जोगी का चोला ओढ़ लिया था

जिस दिन

तुम ज़िन्दगी से चले गए थे

बिन बताये

बिन खटखटाए

इस दिल को अब

न कोई आस है न ख़्वाहिश

न ग़म है न ग़िला

बस इतनी इल्तिज़ा है कि

अब इस दिल से भी चले जाओ तुम

बिन बताए

बिन खटखटाये !

 

English translation

 

Why do you sneak in my thoughts

without invitation

without knocking

when you have no right over my heart

my heart wore the cloak of an unloving sage

from that day itself

when you walked away from my life

without informing

without knocking

now my heart has

no expectations, no desires

no pains, no complains

but just an appeal that

you walk away from my heart too

without informing

without knocking!

 

Advertisements